Monday, 11 November 2019

यौवनावस्था में होने वाले परिवर्तनों से घबराएं नहीं 

यौवनावस्था में शरीर में कई तरह के परिवर्तन होते हैं। लड़कियों के लिए यौवन 8 से 13 साल की उम्र के बीच कभी भी शुरू हो सकता है (और कभी-कभी पहले या बाद में) लेकिन पहला परिवर्तन अक्सर 10 या 11 साल के आसपास होता है।
लड़कों के लिए पहला परिवर्तन लड़कियों की तुलना में थोड़ा देर से होता है। उनमें यह परिवर्तन 10 से 15 साल के बीच कभी भी शुरू हो सकता है। अधिकतर लड़कों में पहला परिवर्तन तब षुरू होता है जब वे 11 या 12 साल के आसपास होते हैं। 
जैसा कि हम सभी लोग अलग-अलग है इसलिए हम यौवनावस्था में अलग-अलग समय पर और अलग-अलग दर पर जा सकते हैं। कुछ लोगों में सभी परिवर्तन आसानी से दिखने लगते हैं तो कुछ लोगों को कुछ समस्याएं हो सकती है।
आपके शरीर में होने वाले परिवर्तन क्या हैं?
कुछ परिवर्तन लड़कियों और लड़कों दोनों के लिए एक समान होते हैं।
होने वाले परिवर्तन
लंबा होना (और पांव का बड़ा होना)
आकार में परिवर्तन होना
''मूडी'' महसूस करना
हाथ और पैरों पर अधिक बाल होना और कांख और प्रजनन क्षेत्र में नये बाल का उगना- इसकी षु्रुआत पतले बालों से होती है और जैसे-जैसे आप बड़े होते जाते हैं ये बाल अधिक मोटे और गहरे हो जाते हैं।
अधिक पसीना आना और उसमें कुछ गंध होना 
त्वचा का तैलीय होना और अक्सर कुछ मुंहासे निकलना
यौन इच्छा महसूस करना
भावनात्मक परिवर्तन
लड़के और लड़कियां दोनों हीं यौवनावस्था में कई प्रकार के भावनात्मक परिवर्तन से गुजरते हैं
यह हर कोई जानता है कि लड़कियों में जब हार्मोन परिवर्तन होता है और मासिक धर्म शुरू होता है तो वे भावुक हो सकती हैं, लेकिन लड़कों को भी हार्मोन परिवर्तन का सामना करना पड़ता है, हालांकि उनमें यह परिवर्तन लड़कियों की तुलना में आम तौर पर दो साल देर से होता है और वे कभी-कभी भूल जाते हैं।  
यौवन कई परिवर्तन का समय है। यह बहुत रोमांचक समय हो सकता है और बहुत ही चिंताजनक समय भी हो सकता है। याद रखें, हर वयस्क यौवन से गुजरता है और उनके पास कुछ ऐसे विचार हो सकते हैं जो आपको परेशान कर सकते हैं। यदि आप किसी चीज को लेकर परेषान हैं तो अपने माता-पिता, शिक्षक या विश्ससनीय वयस्क से बात करें।  
कभी-कभी दूसरे बच्चे कुछ पूछने के लिए हमेशा सही साबित नहीं होते हैं क्योंकि उनके पास आपकी जरूरत के अनुसार सही जानकारी नहीं हो सकती है या वे चीजों को सही तरीके से नहीं समझ सकते हैं। 
याद रखें हर कोई यौवन से गुजरता है और हर किसी का अनुभव अलग-अलग हो सकता है, इसलिए यदि आप वास्तव में कुछ चीज को लेकर चिंतित हैं तो पूछें। यदि आपको कहीं से भी सही जवाब नहीं मिल सकता है या उन प्रकार के सवालों को पूछने में सहज महसूस नहीं करते हैं तो अपने चिकित्सक के पास जाएं। 


Labels:

0 Comments:

Post a Comment

<< Home