Header Ads Widget

We’re here to help you live your healthiest, happiest life.

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) के तहत हैकाथॉन सीराज का आयोजन किया |

यूएचआई के उपयोग से स्वास्थ्य सेवा आपूर्ति के लिए नवीन समाधान विकसित करने के उद्देश्य से 14 से 17 जुलाई, 2022 तक हैकाथॉन का आयोजन किया गया । विजेताओं को आकर्षक नकद पुरस्कार दिए  गए |

नई दिल्ली : राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन (एबीडीएम) इकोसिस्टम में विभिन्न निर्माण खंडों के इर्दगिर्द नई सोच और नवाचारों को आगे बढ़ाने के लिए अपनी पहली हैकाथॉन श्रृंखला का आयोजन किया  । यह श्रृंखला एक हैकाथॉन के साथ शुरू होगी- ‘राउंड 1: किकस्टार्टिंग यूनिफाइड हेल्थ इंटरफेस (यूएचआई)’ 14 जुलाई से 17 जुलाई, 2022 हुआ । हैकाथॉन में यूनिफाइड हेल्थ इंटरफेस (यूएचआई) पर जोर दिया गया  और इसका उद्देश्य भारत में हेल्थ स्टार्ट-अप इकोसिस्टम को गति देना और यूएचआई के माध्यम से समाधान विकसित करने के लिए लोगों और संगठनों को एकजुट करा | 

हैकाथॉन से दुनिया भर के नवाचारकर्ताओं, डाटा विशेषज्ञों और डेवलपर्स को यूएचआई के माध्यम से डिजिटल स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच उपलब्ध कराने के लिए भागीदारी करने और नवीन समाधान विकसित करने का शानदार अवसर मिला ।

यूएचआई को एक खुले नेटवर्क के रूप में तैयार किया गया , जिससे टेलीकंसल्टेशन जैसी डिजिटल स्वास्थ्य सेवाओं के अंतर संचालन लेनदेन को संभव बनाया जा सका  ।यूएचआई के माध्यम से, मरीज अपनी पसंद के किसी एप्लीकेशन से विभिन्न भागीदारी सेवा प्रदाताओं के द्वारा दी गई सेवाओं के लिए खोज, बुक, संचालन और भुगतान कर सकते हैं। यह डिजिटल स्वास्थ्य सेवा डिलिवरी के वर्तमान तरीके के विपरीत है, जहां मरीज और डॉक्टरों को एक समान एप्लीकेशन या प्लेटफॉर्म के उपयोग से लेनदेन करना चाहिए। 


हैकाथॉन श्रृंखला का ऐलान करते हुए, एनएचए के सीईओ डॉ. आर. एस. शर्मा ने कहा, “भारत ने दुनिया में कुछ सबसे ज्यादा सक्षम सार्वजनिक डिलिवरी प्रणालियों की स्थापना को संभव बनाया है। बंदिशों को खत्म करके और नेटवर्क के प्रभावों को दूर करके जेएएम और यूपीआई के माध्यम से ऐसा ही किया गया था। एबीडीएम और यूएचआई स्वास्थ्य इकोसिस्टम के लिए ऐसा करके दिखाएंगे और यह हैकाथॉन श्रृंखला प्रतिभागियों को भागीदारी करने और समाधान विकसित करने में सक्षम बनाएगी, जिससे स्वास्थ्य क्षेत्र का भविष्य निर्धारित होगा। हर भारतीय के लिए एक बेहतर स्वास्थ्य इकोसिस्टम के निर्माण में भागीदारी के लिए सभी को आमंत्रित किया | 

‘एबीडीएम हैकाथॉन सीरीज- राउंड 1: किकस्टार्टिंग यूएचआई’ में  मुख्य विषय वस्तुओं पर जोर दिया गया :

नवाचार ट्रैक :टेलीकंसल्टेशन, एम्बुलैंस बुकिंग, लैब परीक्षणों, फिजिकल परामर्श बुकिंग, लैब जांच बुकिंग जैसे विभिन्न मामलों के इर्दगिर्द एक खुले नेटवर्क में डिजिटल स्वास्थ्य को मजबूत बनाने के लिए नवीन समाधानों के लिए चैलेंज।

एकीकरण ट्रैक:यूएचआई के अनुकूल एप्लीकेशन के विकास को बढ़ावा देने और इन एप्लीकेशनको अन्य प्रतिभागियों के एप्लीकेशन के साथ एकीकृत करने का चैलेंज। इससे यूएचआई नेटवर्क पर डिजिटल स्वास्थ्य लेनदेनों को संभव बनाया जा सकेगा।

‘राउंड 1- किकस्टार्टिंग यूएचआई’ के लिए कुल अनुमानित पुरस्कार 60,00,000 रुपये रखा गया है। यह पुरस्कार उक्त उल्लिखित विषय वस्तुओं पर हर चैलेंज ट्रैक पर सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वालों को दिया जाएगा। एक स्वतंत्र जूरी द्वारा समाधानों का मूल्यांकन किया गया ।

प्रियांशी त्यागी 


Post a Comment

0 Comments