Saturday, 9 November 2019

रक्तचाप को दूर करने के लिए जीवनशैली में लाएं बदलाव

रक्तचाप के खतरे की मुख्य वजह दोषपूर्ण जीवनशैली और अस्वस्थ खानपान है। कई बार हम स्वास्थ्य की अनदेखी करते हुए खान-पान में पर्याप्त सावधानी नहीं बरतते हैं जिसकी वजह से रक्तचाप जैसी समस्या होती है। 
उच्च रक्तचाप करें कम
रक्तचाप से निपटने के लिए जरूरी है कि अपने आहार और जीवनशैली में सही ताल-मेल बिठाएं। मोटापा, एल्कोहल का सेवन और देर तक जागना रक्तचाप के खतरे को बढ़ा देते हैं।
मोटापा करें कम 
रक्तचाप की समस्या अक्सर मोटापे के कारण बढ़ती है। अगर आप रक्तचाप की दवाएं ले रहें तो जरूरी है कि अपने बढ़ते वजन पर काबू करें तभी ये दवाएं अपना असर दिखाने में कामयाब हो सकेंगी। 
व्यायाम करें
यूं तो आपको फिट रहने के लिए व्यायाम जरूर करना चाहिए लेकिन रक्तचाप से बचने के लिए हर रोज 30 से 60 मिनट का शारीरिक व्यायाम जरूर करें। आप चाहें तो जॉगिंग, स्कीपिंग, साइक्लिंग आदि कर सकते हैं।
स्वस्थ आहार लें 
स्वस्थ जीवनशैली में आहार की बड़ी भूमिका होती है। हमेशा ताजी और हरी सब्जियों को सेवन करें। कम वसा युक्त डेयरी उत्पाद स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। इसके अलावा मौसमी फल और पौटेशियम युक्त आहार लें।
नमक का सेवन कम करें
अपने आहार में नमक का सेवन कम से कम करें। प्रोसेस्ड फूड के सेवन से रक्तचाप का खतरा बढ़ सकता है इसलिए इन्हें अपने आहार में शामिल करें। अपने आहार में अलग से नमक की मात्रा ना मिलाएं।
शराब का सेवन न करें
शराब का सेवन सिर्फ रक्तचाप का ही नहीं बल्कि कई अन्य बीमारियों का भी कारण है। अगर आप अचानक से इसका सेवन नहीं छोड़ पा रहें हैं तो थोड़ा-थोड़ा करके अपनी इस आदत में कमी लाएं। रक्तचाप में शराब लेना आपके लिए काफी खतरनाक हो सकता है।
तंबाकू उत्पाद और धूम्रपान से करें परहेज
तंबाकू और निकोटीन का सेवन आपके रक्तचाप को बढ़ा देता है। धूम्रपान करने की आदत से रक्तचाप के स्तर में निरंतर वृद्धि होती रहती है इसलिए जितनी जल्दी हो सके इस आदत को छोड़ दें।
कैफीन में करें कटौती
कॉफी का सेवन रक्तचाप के खतरे को बढ़ा सकता है। कॉफी पीने के 30 मिनट बाद अगर आप रक्तचाप की जांच करें तो देखेंगे की रक्तचाप के स्तर में कोई प्रभाव नहीं पड़ा लेकिन बाद में यह रक्तचाप को बढ़ाने का काम करता है।
तनाव कम लें
रक्तचाप बढ़ने की मुख्य वजहों में से एक है तनाव। किसी प्रकार की चिंता और तनाव का कारण रक्तचाप के स्तर को बढ़ा देता है। तनाव होने पर एक ब्रेक लें। लंबी सांस ले, योगा व ध्यान की मदद से तनाव से छुटकारा पा सकते हैं।
रक्तचाप पर नजर रखें
घर पर रक्तचाप नापने वाली मशीन रखें और नियमित रुप से रक्तचाप की जांच करें। इससे आपको पता लग जाएगा कि आपका रक्तचाप कितना बढ़ा और कम हुआ है। अगर रक्तचाप नियंत्रित न हो तो डॉक्टर से सलाह लें।
परिवार और दोस्तों की मदद लें
दोस्तों और परिवार के सहयोग से आपकी सेहत में सुधार होता है। वे आपको आपकी सेहत को लेकर प्रेरित करते रहते हैं जिससे आप अपनी फिटनेस के साथ समझौता नहीं कर पाते हैं।


 


No comments:

Post a Comment