Friday, 1 November 2019

स्कूली छात्रों के लिए लाइव ऑनलाइन क्‍लासेस 

प्रौद्योगिकी आधारित ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म, बेसिकफर्स्ट, ने भारत में स्कूली छात्रों के लिए 'पार्टिसिपेटरी लर्निंग' अनुभव प्रदान करने के लिए, अपने ऑनलाइन क्लासेस शुरु करने की घोषणा की। सोमवार को नई दिल्ली में एक होटल में आयोजित इन्फ्लुएंसर्स बैठक में, बेसिकफर्स्ट के चीफ मेंटर श्री रणधीर कुमार प्रियदर्शी ने यह भी खुलासा किया कि उनके प्‍लेटफॉर्म पर यह नई सेवा अगले तीन महीनों के भीतर नौ भारतीय भाषाओं में उपलब्ध होगी, जिससे इसकी पहुंच का दायरा और बढ़ जायेगा।


इस साल फरवरी में अपनी स्थापना के बाद से, बेसिकफर्स्‍ट अपने दो शुरुआती प्रॉडक्‍ट जैसे 'डाउट क्लीयरिंग प्रोग्राम' और 'रेंट-ए-टैब' के 20,000 भुगतान वाले ग्राहकों के साथ तेजी से विकास करते हुए लगभग 18 स्थानों पर मौजूद है, जहां 700 कर्मचारी कार्यरत हैं। इन दो प्रॉडक्‍ट में से पहला प्रॉडक्‍ट पूरे भारत में कक्षा 6 से 12वीं तक की किसी भी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्र को चैट/फोन/वीडियो के माध्यम से अपने प्रश्‍नों को हल करने में सक्षम बनाता है, और दूसरा प्रॉडक्‍ट 'रेंट-ए-टैब' छात्रों को 750 रुपये महीने के खर्च पर देश की सबसे सस्ती शिक्षा टैबलेट तक पहुंच प्रदान करता है।


'लाइव ऑनलाइन क्लासेस' के लॉन्च के अवसर पर, बेसिकफर्स्ट के संस्थापक और सीईओ रणधीर कुमार ने बताया कि, "छात्रों द्वारा महसूस की जाने वाली किसी भी जरूरत या संदेह को दूर करने के लिए, हम अपनी लाइव ऑनलाइन क्लासेस के माध्यम से बेसिकफर्स्ट को छात्रों तक पहुंचाना चाहते हैं। इसके साथ ही, हम भारतीय छात्रों के लिए भाषा की कठिनाई को कम करना चाहते हैं, ताकि उन्हें सोचने और अपने सपनों को पूरा करने की समझ को लागू करने में सक्षम बनाया जा सके, क्योंकि देश भर में हमारी आबादी का एक बड़ा हिस्सा अंग्रेजी के साथ पर्याप्त रूप से सहज नहीं हो सकता है। हम हमेशा से मानते हैं कि संदेहमुक्‍त शिक्षा के लिए प्रत्येक छात्र पर व्यक्तिगत ध्यान देने की आवश्यकता है और इसीलिए हमने यह नवीनतम ऑफरिंग विकसित की है। हमारी लाइव ऑनलाइन क्‍लासेस छात्रों को अपने घर के आरामदायक माहौल में रहते हुए देश के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों से व्यक्तिगत अनुभव प्राप्त करना संभव बनायेंगी।"


बेसिकफर्स्ट अगले तीन महीनों में आठ क्षेत्रीय भाषाओं के साथ कुल नौ भाषाओं में लाइव क्‍लासेस उपलब्‍ध करायेगा। 'लाइव ऑनलाइन क्लासेस' कार्यक्रम छात्रों को उनकी पसंदीदा भाषा चुनने की सुविधा देगा, जिसमें अंग्रेजी, हिंदी, मलयालम, कन्नड़, तमिल, तेलुगु, उड़िया, बंगला और मराठी शामिल हैं। क्षेत्रीय भाषा की सुविधा गैर-महानगरीय शहरों के छात्रों के लिए दी गई है, जिनकी पसंदीदा भाषा अंग्रेजी नहीं हो सकती है, और छात्रों को अपनी क्षेत्रीय भाषा में सीखने में ही आराम मिलता है।


बहु-भाषा समर्थन के अलावा, लाइव ऑनलाइन क्लासेस प्रोग्राम की अन्य अनूठी विशेषता यह है कि यह छात्रों की जरूरत के अनुसार, विषयों के समूह के बजाय छात्रों को एक विशिष्ट विषय (विषयों) को चुनने की सुविधा देता है। ऑनलाइन क्‍लासेस छात्रों को 'वन-टू-वन क्लास', जहां अकेले एक छात्र के लिए एक शिक्षक उपलब्‍ध होता है, या 'वन-टू-मेनी क्लास', जहां समान विषयों वाले कई छात्रों को सह-शिक्षण के लिए एक साथ रखा जाता है, का विकल्‍प चुनने की सुविधा देती है। दोनों सुविधाओं के अपने-अपने लाभ हैं: 'वन-टू-वन क्‍लास' निजी कक्षाओं की तरह व्यक्तिगत फोकस प्रदान करता है, जबकि 'वन-टू-मेनी कलास' छात्रों को कक्षाओं की तरह अन्‍य छात्रों के साथ समस्याओं और संदेहों को दूर करने में मदद करता है।


बेसिकफर्स्ट के 'लाइव ऑनलाइन क्लासेज' के छात्रों के लिए उपलब्ध सुविधाओं के बारे में बताते हुए, श्री कुमार ने कहा, "लाइव ऑनलाइन क्‍लासेस जेईई मेन और एडवांस, एनईईटी, एम्स जैसे पाठ्यक्रमों की एक विस्तृत रेंज के लिए उपलब्ध हैं। कमजोर आर्थिक पृष्ठभूमि से आने वाले छात्रों के लिए सीखने की प्रक्रिया को और आसान बनाने के लिए, हम छात्रों को पाठ्यक्रम शुल्क पर ईएमआई विकल्प भी उपलब्‍ध कराते हैं, ताकि उनके माता-पिता पर बड़ी राशि के एकमुश्त भुगतान का बोझ न पड़े।"


उन्होंने कहा कि "सीखने का भविष्य लाइव ऑनलाइन कक्षाओं की सुविधाओं को बेहतर बनाने में निहित है, जो इसे ऑफलाइन कोचिंग कक्षाओं की जगह लेने, और छात्रों को एक वास्‍तविक अनुभव प्रदान करने में सक्षम बनाती है।"


No comments:

Post a Comment