Thursday, 1 August 2019

शारदा युनिवर्सिटी ने मनाया ओरल हाइजीन डे 

नई दिल्ली, एक अगस्त, 2019: मुंह की नियमित सफाई कई बीमारियों की रोकथाम और संपूर्ण सेहत को दुरूस्त बनाए रखने में एक अहम भूमिका निभाती है। हालांकि, जागरूकता की कमी, उचित जानकारी का अभाव और लापरवाही भरा रवैये से अक्सर मुंह और दांत से जुड़े कई जटिल मुद्दे पैदा हो जाते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए शारदा युनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ डेंटल साइंसेज के पीरियडोंटल विभाग ने आम लोगों को मुंह की साफ सफाई के महत्व के बारे में शिक्षित करने, प्रेरित करने और जानकारी देने के लिए 1 अगस्त को नेशनल ओरल हाइजीन डे से पहले एक विशेष शिविर का आयोजन किया। 25 जुलाई से शुरू होकर एक सप्ताह तक चले इस शिविर को इंडियन सोसाइटी ऑफ पीरियडोंटोलॉजी के संस्थापक डॉक्टर जी.बी. शानवलकर की जयंती मनाने के उददेश्य से भी आयोजित किया गया।


मुंह और दांतों की साफ सफाई से मुंह की दुर्गध रोकने, दांत गिरने और मुंह की दूसरी बीमारियां रोकने में मदद मिल सकती है और उम्र बढ़ने पर भी दांतों को मजबूत बनाए रखने में मदद मिलती है। अस्वस्थ्य मुंह खासकर मसूडे की बीमारी से ग्रसित व्यक्ति के मामले में दिल का दौरा, अनियंत्रित मधुमेह जैसी गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। इस विशेष ओरल हेल्थ कैंप के तहत करीब 600 मरीजों के मुंह की जांच की गई और मुंह की देखभाल के बारे में उन्हें सलाह दी गई एवं साथ ही दांत साफ करने की सही तकनीकी की भी जानकारी दी गईउन्हें निःशुल्क मुंह साफ करने के नमूने भी उपलब्ध कराए गए।


शारदा युनिवर्सिटी का स्कूल ऑफ डेंटल साइंसेज वर्ष 2020 तक सभी के लिए ओरल हेल्थ का मिशन लेकर चलने को प्रतिबद्ध है और इसने मुंह की देखभाल के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने और नजरअंदाजी के रवैये पर अंकुश लगाने का लक्ष्य रखा है जोकि दांत की बीमारियों के लिए प्रमुख कारणों में से एक है। एक सप्ताह की अवधि के दौरान मरीज निःशुल्क स्केलिंग का लाभ उठाने और मसूडे की जांच की सभी प्रकियाओं पर 50 प्रतिशत छूट का लाभ उठाने के लिए शारदा युनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ डेंटल साइंसेज पधारे


शारदा युनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ डेंटल साइंस के डीन प्रोफेसर डॉक्टर एम. सिद्धार्थ ने कहा, “सभी के लिए अधिक से अधिक ओरल हेल्थकेयर के विभाग के विजन के साथ ओरल हाइजीन सप्ताह मनाया गया जिसमें मुंह की देखभाल का संपूर्ण स्वास्थ्य के साथ संबंध को समझकर संपूर्ण स्वास्थ्य को दुरूस्त रखने पर ध्यान केंद्रित किया गया।"


उन्होंने कहा, “मुंह के अच्छे स्वास्थ्य का अर्थ अच्छे दांत और खूबसूरत मुस्कान से कहीं अधिक हैयह संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि अच्छे पोषण, उचित पाचन, भाषा विकास और आत्म सम्मान के लिए दांत महत्वपूर्ण हैं।”


जांच कार्यक्रमों के अलावा, विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसमें उन्होंने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया और विभिन्न प्रस्तुतियों के माध्यम से मुंह की अच्छी साफ सफाई बनाए रखने के महत्व के बारे में जानकारी दीलोगों को उत्साह बनाए रखने के लिए विजेताओं और प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र और ईनाम भी दिए गए।


No comments:

Post a Comment