Wednesday, 6 November 2019

वजन घटाना हो तो भी आलू खायें

आलू को मोटापा बढ़ाने वाला माना जाता है और यही कारण है कि लोग आलू का अधिक सेवन करने से बचते हैं जबकि वैज्ञानिकों का कहना है कि आलू ऐसा खाद्य पदार्थ है जो वजन तो घटाता है लेकिन सेहत नहीं। 
अमरीका के डेविस स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया तथा इलिनोइस इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के नेषनल सेंटर फॉर फूड सैफ्टी एंड टेक्नोलॉजी के षोधकर्ताओं ने अपने ताजा अध्ययन से पाया है कि लोग अपने आहार में आलू को षामिल करके अपना वजन कम कर सकते हैं। 
इस अध्ययन के तहत् वजन को कम करने में आलू की भूमिका और ग्लिसेमिक सूचकांक का विस्तृत रूप से अध्ययन किया गया क्योंकि कुछ लोग वजन को कम करने के लिए सेवन किये जाने वाले आहार में आलू को षामिल करना उचित नहीं मानते हैं क्यांकि यह हाई ग्लिसेमिक इंडेक्स (एच जी आई) भोजन है। 
मुख्य अनुसंधानकर्ता डा. ब्रिट बुरटन-फ्रीमैन कहते हैं, ''इस अध्ययन के निश्कर्श से स्वास्थ्य कर्मियों और पोशण विषेशज्ञों द्वारा सालों से कहे जा रहे इस बात की पुश्टि हुई है कि वजन को कम करने के लिए कुछ खास तरह के भोजन या भोजन के समूहों का सेवन नहीं करने की बजाय अपने आहार में कैलोरी की मात्रा को कम करना चाहिए। इस बात का कोई साक्ष्य नहीं है कि आलू को स्वास्थ्यवर्द्धक तरीके से पकाए जाने पर इसके सेवन से वजन बढ़ता है। वास्तव में, हम इसे वजन को कम करने के कार्यक्रम का एक हिस्सा बना सकते हैं।''
इस अध्ययन के तहत् अनुसंधानकर्ताओं ने अधिक वजन के 86 पुरुश और महिलाओं पर
आलू के साथ कम कैलोरी वाले रूपांतरित ग्लिसेमिक इंडेक्स वाले आहार के प्रभाव का 12 सप्ताह तक अध्ययन किया। इन लोगों को तीन समूहों में बांटकर प्रत्येक समूह को आहार में हर सप्ताह आलू के पांच से सात सर्विंग दिये गये। लेकिन परिणामस्वरूप तीनों समूहों के लोगों का वजन कम हो गया।
एक समूह को उनके दैनिक आहार में कम ग्लिसेमिक सूचकांक (एल जी आई) वाले आहार दिये गए। दूसरे समूह को उनके दैनिक आहार में उच्च ग्लिसेमिक सूचकांक (एच जी आई) वाले आहार दिये गये। दोनों समूहों ने अपने दैनिक आहार में 500 कैलारी का कम सेवन किया जबकि हर सप्ताह उन्होंने पांच से सात सर्विंग आलू का भी सेवन किया। तीसरे समूह को ''नियंत्रित समूह'' का नाम दिया गया और उन्हें अपने दैनिक आहार और कैलोरी के सेवन का चुनाव खुद ही करने को कहा गया। लेकिन उन्हें अमरीकी आहार दिषानिर्देषों और फूड गाइड पिरामिड का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया गया। तीनों समहों के आहार में समानता यह थी कि तीनों समूहों ने ही अपने आहार में हर सप्ताह आलू के पांच से सात सर्विंग को षामिल किया। निश्कर्श के तौर पर पाया गया कि सभी तीन समूहों के लोगों के वजन में कमी आयी और लो तथा हाई ग्लिसेमिक इंडेक्स समूहों के लोगों के वजन की कमी में कोई खास अंतर नहीं पाया गया।
इस अध्ययन के उप प्रमुख कैथलिन त्रियोउ कहते हैं कि आलू प्रेमियों के लिए यह एक सुखद समाचार है और जो लोग भोजन में संतुश्टि के लिए आलू का सेवन करना चाहते हैं वे अपने आहार में आलू को षामिल कर सकते हैं। एक मध्यम आकार (5.3 औस) के छिलके वाले आलू में प्रति सर्विग केवल 110 कैलोरी होती है, एक केला की तुलना में अधिक पोटाषियम (620 ग्राम) होता है, रोजमर्रा की जरूरत का करीब आधा विटामिन सी (45 प्रतिषत) होता है और कोई वसा, सोडियम या कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है। 


No comments:

Post a Comment