Monday, 11 November 2019

यात्रा के दौरान मधुमेह रोगी बरतें कुछ खास सावधानियां

मधुमेह में कई परेशानियों के कारण मरीज को बहुत देखभाल की जरूरत होती है। मधुमेह में यात्रा करना अपने आप में बहुत मुश्किल होता है इसलिए जब भी मधुमेह रोगी घर से कहीं बाहर जाते हैं तो उनको बहुत सी बातों का ध्यान रखने की जरूरत होती है, जैसे उन्हें कौन-कौन सी दवाईयां साथ रखनी हैं, इंसुलिन कब लेना है इत्यादि। इसीलिए मधुमेह रोगियों को यात्रा पर जाते समय डॉक्टर की अवश्य सलाह लेनी चाहिए। मधुमेह रोगियों को यात्रा पर जाते समय निम्न बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए -
- आप यात्रा पर जाना चाहते हैं और मधुमेह पीड़ित हैं तो आपको चाहिए कि आप उन सभी चीजों को अपने साथ जरूर रख लें जिनकी आपको प्रतिदिन आवश्यकता होती है, जैसे आपकी दवाईयां।
- लंबी यात्रा आपको थका सकती है, क्योंकि मधुमेह पीड़ित लोग जल्दी ही थक जाते हैं, ऐसे में आपको चाहिए कि आप अपने साथ साफ पानी जरूर रखें ताकि आप इसे यात्रा के दौरान ले सकें।
- आप यात्रा पर जा रहे हैं तो जाहिर सी बात है आपको रास्ते में भूख भी लग सकती है और यदि आप ट्रेन से जा रहे हैं तो आपको चाहिए कि आप अपने साथ शुगर फ्री टेबलेट्स रखें और साथ ही कोशिश करें कि आप अपने साथ थर्मस में ही दूध इत्यादि लेकर जाएं जिससे आप बाहर की चाय-पानी पीने से बच जाएं।
- मधुमेह रोगियों को हर दो घंटे बाद कुछ ना कुछ खाना चाहिए अन्यथा भूख के कारण उनकी तबियत भी खराब हो सकती है। ऐसे में यात्रा के दौरान मधुमेह रोगियों का आहार शुगर फ्री और हेल्दी होना चाहिए जो कि लंबे समय तक ठीक रह सकें।
- यदि आप इंसुलिन लेते हैं तो आपको ध्यान रखना चाहिए कि आप दिन में कितनी बार इंसुलिन ले रहे हैं, उसी हिसाब से आपको अपने खान-पान का भी ध्यान रखना होगा। इतना ही नहीं आपको अपने साथ इंसुलिन रखना चाहिए ताकि जरूरत के समय आपको परेशानी ना हो।
- यदि आपको लंबे समय तक चलना है तो इस बात का ख्याल रखें कि आपको मधुमेह के कारण पैरों में छाले पड़ सकते हैं, इसीलिए आपको आरामदायक फुटवियर पहनने चाहिए जिससे आपके पैरों में दर्द ना हो और आपको चलने में भी तकलीफ ना हो।
- यात्रा पर जाने से पहले आप जांच लें कि आपके शुगर का स्तर कितना है, बहुत अधिक शुगर बढ़ने पर आपको और भी अधिक सावधानी बरतनी चाहिए ताकि आपातकालीन स्थिति से आप आराम से निबट सके।
- आपको समय-समय पर यात्रा के दौरान पानी पीना चाहिए जिससे आप सिरदर्द, चक्कर, उल्टी इत्यादि  समस्याओं से बच सकें।
- लंबी यात्रा पर जाने से पहले अपने डॉक्टर से एक बार जरूर परामर्श कर लें और डॉक्टर के दिशा-निर्दर्शों का पालन जरूर करें।
- आपको अपने साथ फस्र्ट एड बॉक्स भी रखना चाहिए जिसमें आप मधुमेह की टेबलेट, इंसुलिन, एंटीबायोटिक्स, कॉटन, बैंडेज इत्यादि रखें।
- इसके अलावा आपके पास अपने डॉक्टर का नंबर भी होना जरूरी है ताकि आपातकालीन स्थिति में आप उनसे सलाह ले सकें।


Labels:

0 Comments:

Post a Comment

<< Home