Wednesday, 27 November 2019

अब रोबोट करेगा ज्वाइंट रिप्लेसमेंट 

पिछले कुछ वर्षों मेंए आर्थोपेडिक समस्याओं की जांच एवं क्षतिग्रस्त या खराब हो चुके जोड़ों की मरम्मत के क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है। ऐसी ही एक महत्वपूर्ण कामयाबी है ज्वांइट रिप्लेसमेंट के लिए रोबोटिक्स—एनेबल्ड सिस्टम। 
घुटने बदलने की सर्जरी दुनिया भर में की जाने वाली सबसे आम सर्जरी है। यह वह शल्य प्रक्रिया है जिसमें घुटने के खराब हिस्से को कृत्रिम अंग से बदल दिया जाता है। इस सर्जरी का मुख्य उद्देश्य आर्थराइटिस अथवा जोड़ों की अन्य समस्याओं के कारण उत्पन्न दर्द या विकलांगता से मरीज को छुटकारा दिलाना होता है और साथ ही साथ मरीज को चलने—फिरने में सक्षम बनाया जाता है और उसकी गतिशीलता बहाल की जाती है। 
इस सर्जरी के पूर्व निदान और अवलोकन के जरिए नुकसान की प्रकृति का आकलन किया जाता है और उसके आधार पर, डॉक्टर या घुटने को पूरी तरह या आंशिक तौर पर बदल सकते हैं। दोनों ही स्थितियों में सफल शल्य प्रक्रिया के लिए सर्जन की विशेषज्ञता और सटीक तरीके से एलाइनमेंट की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। रोबोटिक्स आधारित प्रणाली मानव त्रुटि की आशंकाओं को समाप्त करती है और अधिक से अधिक सही तरीके से इम्प्लांट को स्थापित किए जाने की प्रक्रिया को बिल्कुल सही और सटीक बनाती है जिससे मरीज को अधिक से अधिक लाभ होता है और वह जल्दी स्वास्थ्य लाभ करता है। 
रोबोटिक सर्जरी में कुशल सर्जन के अनुभव के साथ उन्नत कंप्यूटर प्रौद्योगिकी का समन्वय होता है। सर्जन अत्यंत सूक्ष्म स्तर पर पूरी तरह से सटीक सर्जरी को अंजाम देने के लिए रोबोटिक आधारित नियंत्रण एवं विवेक का उपयोग करता है जिससे सर्जरी के बाद रोगी को अत्यधिक वांछनीय परिणाम प्राप्त होते हैं।
यह प्रणाली कैसे काम करती है
रोबोट सर्जन को सर्जरी की योजना बनाने में मदद करने के लिए रोगी के घुटने का 3 डी मॉडल बनाने के लिए मरीज से संबंधित विशिष्ट डेटा को एकत्र में मदद करता है। रोबोट द्वारा उपलब्ध कराया गया डेटा सर्जन को सर्जरी से पूर्व ही सर्जरी की योजना बनाने में मदद करता है जिसके कारण लिंगामेंट को सही तरीके से संतुलित बनानेए सही तरह से एलाइन करने और व्यवस्थित करने के लिए सर्जन के पास अधिक से अधिक अवसर एवं गुंजाइश होती है जिसके कारण मरीज सर्जरी के बाद पूर्ण गतिशीलता हासिल करता हैए जोड़ों में कम कड़ापन होता है और इम्प्लांट भी खराब नहीं होते हैं। 
रोबोटिक नी सर्जरी क्यों
— रोबोट असिस्टेड घुटने सर्जरी का सबसे महत्वपूर्ण लाभ यह है कि सर्जन को उच्च सटीकता के साथ सर्जरी करने में मदद मिलती है जबकि घुटनों की सामान्य सर्जरी सर्जन द्वारा देख कर किए जाने वाले अवलोकनों पर पूरी तरह से निर्भर होती है। 
— रोबोटिक असिस्टेड नी सर्जरी उच्च परिशुद्धता के कारण घुटनों की सामान्य सर्जरी की तुलना में मरीज को अधिकाधिक गतिशीलता प्राप्त होती है और सर्जरी के बाद उसके पैर अधिक से अधिक प्राकृतिक होते हैं। 
— रोबोटिक असिस्टेड नी सर्जरी में सर्जन केवल क्षतिग्रस्त हिस्से पर ही काम करते हैं जिसके कारण अन्य ऊतकों ओर हड्डियों को कम से कम नुकसान पहुंचता है और रक्त की कम हानि होती है। 
— अन्य ऊतकों को कम नुकसान पहुंचने तथा रक्त की कम हानि होने के कारण रोगी को घुटने की परम्परागत सर्जरी की तुलना में अस्पताल से जल्दी छुट्टी मिल जाती है। 
— रोबोट असिस्टेड घुटने सर्जरी में उच्च शुद्धता होने के कारण रोगी परम्परागत सर्जरी की तुलना में अधिक तेजी से स्वास्थ्य लाभ करता है। 
— सटीक रोबोटिक अस्टिट सर्जरी के अधिक से अधिक सही होने के कारण परम्परागत सर्जरी की तुलना में मरीज को सर्जरी के बाद दवाइयों का सेवन कम करना पड़ता है। 
— पूर्णत सही एलाइनमेंट के कारण पारंपरिक घुटने की सर्जरी की तुलना में ज्वाइंट इंप्लांट की उम्र बढ़ जाती है। 
— रोबोट असिस्टेड नी सर्जरी की मदद से घुटने की जटिल सर्जरी को भी आसानी से किया जा सकता है।


Labels:

0 Comments:

Post a Comment

<< Home