Wednesday, 27 November 2019

हर्निया को दोबारा होने से रोकें

हर्निया ऐसी स्थिति है जब कोई विशिष्ट अंग मांसपेशी की दीवार या मानव शरीर के अंदर किसी भी झिल्ली के माध्यम से धक्का देता है। इसका इलाज सर्जिकल प्रक्रियाओं के माध्यम से किया जाता है। यह ग्रोइन में या पहले किये गये ऑपरेशन के निशान में होने वाला सूजन है, जब आंतों या पेट के अंदर की कोई चीज पेट की दीवार में एक छोटे छेद या विकार के कारण एक उभार के रूप में पेट के बाहर आ जाता है। खांसने, छींकने, खड़े होने, व्यायाम करने आदि के कारण पेट में दबाव बढ़ने पर ये सूजन या उभार आकार में बढ़ते हैं। यह सभी उम्र समूहों में, शिशुओं से लेकर वयस्कों तक में देखा जा सकता है।
कभी—कभी भारी वस्तु को उठानेए शौचालय का उपयोग करते समय जोर लगाने, या पेट के अंदर दबाव बढ़ाने वाली किसी भी गतिविधि के कारण भी हर्निया होता है। हर्निया जन्म के समय भी मौजूद हो सकते हैंए लेकिन उस समय उभार दिखाई नहीं दे सकता है और जीवन में बाद में यह दिखाई दे सकता है। पेट की दीवार के ऊतक और मांसपेशियों पर दबाव बढ़ने वाली कोई भी गतिविधि या चिकित्सकीय समस्या हर्निया का कारण बन सकती है
डॉक्टर क्लिनिकल और शारीरिक परीक्षण के दौरान हर्निया की पुष्टि कर सकता है। जब आप खांसते हैं, झुकते हैं, सामान उठाते हैं या स्ट्रेन होने पर हर्निया के आकार में वृद्धि हो सकती है। इसका एकमात्र उपचार सर्जरी है जिससे हर्निया स्थायी रूप से ठीक हो सकता है।
आजकल, हर्निया का इलाज लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के द्वारा किया जा सकता है। लैप्रोस्कोपिक सर्जरी के कई फायदे हैं जिनमें सर्जरी के दौरान छोटा चीरा, बड़े क्षेत्र को मेश से कवर करना, प्रक्रिया के बाद अधिक तेजी से शारीरिक रिकवरी और कम दर्द शामिल है। अधिकतर मामलों में यह डे केयर प्रक्रिया होती है या जयादा से ज्यादा अस्पताल में रात में रुकने की आवश्यकता हो सकती है। मेश के साथ लैप्रोस्कोपिक सर्जरी उन्नत केंद्रों में की जा रही है और इसके परिणाम भी उत्कृष्ट आ रहे हैं।
जटिलताएं
हर्निया सर्जरी की सबसे बड़ी जटिलताओं में से एक यह है कि हर्निया की मरम्मत के बाद यह वापस आ सकता है। अब चिकित्सा अध्ययनों के आधार पर यह साबित किया जा चुका है कि कुछ कारक रोगियों में फिर से हर्निया विकसित करने में मदद कर सकते हैं।
हर्निया की सर्जरी कराने के बाद सावधानी बरतें
- तरल पदार्थ का सेवन करें
- हर्निया का इलाज कराने के लिए सर्जरी कराने वाले मरीजों को सर्जरी के बाद तरल पदार्थ का सेवन करने की सलाह दी जाती है। तरल पदार्थ का सेवन कम करने पर कब्ज हो सकता है। हर्निया की सर्जरी के बाद तरल पदार्थ का सेवन कम करने पर आंतों का मूवमेंट प्रभावित हो सकता है जिससे मल सूखी और कड़ी हो जाती है। अधिक मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करने पर मल नरम होगा और आंतों का मूवमेंट भी आसान हो जाएगा।
धूम्रपान से परहेज करें
हर्निया की सर्जरी के बाद यदि कोई व्यक्ति धूम्रपान करता है तो जटिलताओं का जोखिम काफी हद तक बढ़ जाता है। सर्जरी के चीरा में संक्रमण होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। यह एसिड रिफलक्स के लक्षण भी पैदा कर सकता है। 
स्वस्थ वजन बनाए रखने के लिए व्यायाम करें
हालांकि हर्निया की सर्जरी के बाद सख्त वर्कआउट्स नहीं करने की सलाह दी जाती हैए लेकिन विषेशज्ञ के मार्गदर्शन में शारीरिक गतिविधि करने पर आंतों का मूवमेंट स्टिमुलेट हो सकता है और कब्ज से छुटकारा पाया जा सकता है। वजन कम करने के लिए वॉकिंग जैसे हल्के व्यायाम को प्रोत्साहित किया जाता है। व्यायाम को कैलोरी जलाने और चयापचय को बढ़ाने पर केंद्रित होना चाहिए। रक्त प्रवाह में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाने के लिए गहरी सांस लेने की प्रैक्टिस भी की जानी चाहिए जिससे उपचार प्रक्रिया में तेजी आती है।
 लक्सेटिव्स का अधिक इस्तेमाल करें
अपने पेट पर दबाव को रोकने के लिए लक्सेटिव्स और स्टूल सॉफ़्टनर का उपयोग करें। हर्निया की मरम्मत के लिए ओवर—द—काउंटर लक्सेटिव के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें। वे मल को आसानी से निकलने में मदद करेंगे।
फाइबर और सब्जियां
हर्निया की सर्जरी के बाद किसी व्यक्ति के आहार में फाइबर को धीरे—धीरे शामिल किया जाना चाहिए क्योंकि इससे पेट में गैस और पेट फूलने से लेकर पेट में ऐंठन जैसी कई जटिलताएं हो सकती है। चूंकि हर्निया के ऑपरेशन में आंतों को पेट की दीवार के अंदर वापस धकेला जाता हैए फाइबर और फलों और सब्जियों से भरपूर आहार का सेवन करने पर मल मुलायम होगा और मल त्याग करने में आसानी होगी। फाइबर से भरपूर भोजन आंतों के लुब्रिकेशन के साथ—साथ पेट की दीवार के कोलेजन और इलास्टिन की इंटेग्रिटी को बनाए रखने में भी मदद करता है।
अपने आसपास एक तकिया रखें
जब आपको छींकने या खांसने की जरूरत महसूस हो तो आराम के लिए हाथ में एक तकिया पकड़ लें। इसके लिए आपको अपने आसपास एक तकिया रखना चाहिए ताकि आप अपनी चीरा को कवर कर सकें।
फैलने वाले या कमर में इलास्टिक वाले कपड़े पहनें
हर्निया की सर्जरी की रिकवरी के दौरान सूजन आम है, इसलिए सुनिश्चित करें कि आप फैलने वाले कमर वाले कपड़े पहनें ताकि आप अधिक आरामदायक महसूस कर सकें। इसके अलावा, आप अपने चीरा वाले हिस्से पर कुछ कसकर नहीं पहनें या बांधें।
भारी वस्तुओं को मत उठाएं
हर्निया की सर्जरी के बाद किसी वस्तु को उठाने से बचें। आपको फटने का जोखिम नहीं लेना चाहिए। केवल हल्के सामान उठाएंए और सामान उठाते समय हमेशा अपनी पीठ की मांसपेशियों और घुटनों पर वजन दें ताकि आप अपने पेट का उपयोग न कर सकें।


No comments:

Post a Comment